काशी साहित्यिक संस्थान का द्वितीय वार्षिक उत्सव संपन्न

काशी साहित्यिक संस्थान का द्वितीय वार्षिक उत्सव संपन्न

वाराणसी ।
काशी साहित्यिक संस्थान का द्वितीय वार्षिक उत्सव बड़े ही धूमधाम व भव्य तरीके से मनाया गया । जिसमें देश के विभिन्न हिस्सों से आए साहित्यकारों को सम्मानित किया गया, जिसमें जीवन पर्यंत साहित्यश्रीसम्मान आशा झा को तथाबाल साहित्य श्री सम्मान आकाश श्रीवास्तव को तथा काशी साहित्य श्री सम्मान ललिता कृष्णा ,वर्तिका अग्रवाल वरदा, अभिषेक मिश्रा , दिव्यांशु पांडे, माधवी मिश्रा, मौसमी चंद्रा,प्रभा कुमारी , स्वर्ण रेखा,मधुकर वनमाली, डॉ बुध्दप्रिय सुरेश सौरभ ग़ाज़ीपुरी, प्रतिभा पांडेय,ज्ञानेंद्र विक्रम सिंह रवि,कौशल किशोर मणि तथा एक छोटा उभरता हुआ सितारा मयंक सेन को दिया गया। साथ ही सभी ने अपनी रचनाओं के सस्वर काव्य पाठ से समारोह में चार चांद लगा दिए ।
मुख्य अतिथियों में सुभाष चन्द्र ,राजनारायण गुप्ता , सौदागर सिंह , रेनू आचार्य उपस्थित रहे। लेखिका सुनीता जौहरी ने अपनी पुस्तक आनलाइन संस्थानों का सच सभी के समक्ष प्रस्तुत किया और इस पुस्तक पर चर्चा भी की जिसमें सच्ची घटनाओं के माध्यम से उन्होंने जो कहानी का ताना बाना बुना था उस संबंध में भी बताया कि किस तरह यह कहानी बनीं तथा साथ ही यह भी बताया कि आनलाइन किस तरह लोग ठगे जा रहे हैं साहित्य के नाम पर।
कार्यक्रम के समापन पर काशी साहित्यिक संस्थान की संस्थापिका सुनीता जौहरी ने सभी का धन्यवाद व्यक्त किया।