नारी शक्ति फाउंडेशन का दो दिवसीय आयोजन संपन्न

नारी शक्ति फाउंडेशन का दो दिवसीय आयोजन संपन्न

आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत नारी शक्ति फाउंडेशन द्वारा आयोजित दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यक्रम महिला कला-कौशल प्रदर्शनी और तीज महोत्सव का आयोजन वंदना फार्म हाउस वसुंधरा में हुआ।
कार्यक्रम के प्रमाण में दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्रा नैंसी द्वारा सरस्वती वंदना पर नृत्य प्रस्तुत किया।
कार्यक्रम का आयोजन फाउंडेशन द्वारा सफल पांच वर्षों की विभिन्न क्षेत्रों में उपलब्धि, सरकारी मंत्रालय और खादी ग्रामोद्योग आयोग, नाबार्ड की सहभागिता में आयोजित हुआ। कार्यक्रम में पहले दिन मुख्य अतिथि रमापति त्रिपाठी लोकसभा सासंद, किसान मोर्चा राष्ट्रीय अध्यक्ष राजकुमार चाहर, डॉक्टर संगीता त्यागी राष्ट्रीय अध्यक्ष नारी शक्ति फाउंडेशन, गाजियाबाद मेयर आशा शर्मा, विधायक सुनील शर्मा आदि गणमान्य उपस्थित रहे। 12 प्रदेशों की महिलाओं ने स्वयं निर्मित प्रोडक्ट्स की प्रदर्शनी लगाई, जो कार्यक्रम में आकर्षण का केन्द्र रहा। सभी प्रदेश की स्टालों पर खरीदारी की भी व्यवस्था थी।
कार्यक्रम में सेमिनार के माध्यम से कृषि और पशुपालन मंत्रालय की तमाम सरकारी और लोककल्याण कारी योजनाओं की जानकारी दी गई। राष्ट्रीय गौधन महासंघ के राष्ट्रीय संयोजक विजय खुराना जी ने गौधन संवर्धन,संरक्षण और रोजगार विषय की महत्वपूर्ण मार्गदर्शन दिया।दूसरे दिवस पर खादी,नाबार्ड, के अधिकारियों द्वारा सम्बन्धित विभाग की योजनाओं की विस्तृत जानकारी दी गई। मुख्य अतिथि रेखा वर्मा जी राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भाजपा,सासंद और पूर्व खादी आयोग चेयरमैन डॉक्टर यशवीर जी का शानदार मार्गदर्शन मिला। खादी ग्रामोद्योग आयोग और नाबार्ड से कैसे महिला रोजगार, प्रशिक्षण और सब्सिडी लेकर महिलाएं लाभान्वित हो सकती हैं,जैसे महत्वपूर्ण विषयों की जानकारी दी।
समापन सत्र में तीज महोत्सव पर सांस्कृतिक कार्यक्रम की आयोजना की गई तथा सामाजिक कार्यों और विभिन्न क्षेत्रों मे कार्यरत लोगों को सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर जिनमें डॉ.भावना शुक्ल,डॉक्टर अंजना अरोडा, नीलम सिंह, सीमा कंसल, राजेन्द्र मल्होत्रा, सतीश कौशल,तारा चन्द, संजीव अरोडा, अशोक लालवानी,सौम्य अब्बी, अंजना त्यागी आदि संस्था के सभी साथियों को सम्मानित किया जिनकी मेहनत और प्रयासो से कार्यक्रम को सफलता मिली। महिला रोजगार और प्रशिक्षण पर आयोजित कार्यक्रम में संस्था को प्रयास सफल रहा।
खादी ग्रामोद्योग आयोग, नाबार्ड और समाज सेवकों के सहयोग और भविष्य में हमेशा सहयोग का आश्वासन और सानिध्य मिला।
कार्यक्रम का सफल संचालन डॉ भावना शुक्ल द्वारा किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here