किशोर न्याय अधिनियम 2015 पर जिला स्तरीय कार्यशाला सम्पन्न

किशोर न्याय अधिनियम 2015 पर जिला स्तरीय कार्यशाला सम्पन्न

खण्डवा।
जनपद पंचायत खंडवा के सभागृह में किशोर न्याय बालकों की देखरेख और संरक्षण अधिनियम 2015-16 के विभिन्न प्रावधानों के अंतर्गत जिला स्तरीय एवं ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों की जिला स्तरीय प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया। उक्त कार्यशाला में जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग विष्णु प्रताप सिंह राठौर, सहायक संचालक महिला एवं बाल विकास विभाग एच एस अरोरा, सहायक संचालक महिला एवं बाल विकास विभाग नविता शिवहरे, यूनिसेफ ममता से जिला समन्वयक यशवंत श्रीवास्तव, समस्त परियोजना अधिकारी, बाल कल्याण समिति के विजय सनावा, नारायण बाहेती, विजय राठी,पन्नालाल गुप्ता,किशोर न्याय के अनिल बाहेती आदि शामिल रहे। सर्वप्रथम जिला कार्यक्रम अधिकारी द्वारा किशोर न्याय अधिनियम 2015-16 के विभिन्न प्रावधानों के बारे में उपस्थित अधिकारियों एवं प्रतिभागियों को जानकारी दी गई ।जिसमें देखरेख एवं संरक्षण के जरूरतमंद बालको को तथा विधि का उल्लंघन करने वाले बालकों के पुनर्वास के संबंध में विभाग द्वारा की जा रही कार्रवाईयों के बारे मैं विस्तृत जानकारी प्रदान की गई ।किशोर न्याय अधिनियम के संबंध में बनाई गई पावरप्वाइंट प्रेजेंटेशन तथा फिल्म के माध्यम से अवगत कराया गया। सहायक संचालक महिला एवं बाल विकास विभाग एच एस अरोरा ने विभाग किशोर न्याय अधिनियम बाद देखरेख संस्थाएं, रेलवे चाइल्ड लाइन ,डिस्ट्रिक्ट चाइल्ड लाइन, बाल गृह तथा अन्य जिला स्तरीय स्ट्राइक होल्डर्स के साथ समन्वय से कार्य करने हेतु तथा बालकों के सर्वोत्तम हितों को ध्यान में रखते हुए कार्य करने के संबंध में विभिन्न प्रावधानों के बारे में जानकारी देते हुए उपस्थित प्रतिभागियों को कार्य करने के निर्देश दिए गए। यूनिसेफ ममता से यशवंत श्रीवास्तव द्वारा किशोर न्याय अधिनियम 2015 के विभिन्न प्रावधानों तथा किशोर न्याय नियम 2016 के विभिन्न नियमों के बारे में अवगत कराते हुए बाल कल्याण समिति किशोर न्याय बोर्ड बाल देखरेख संस्थाएं बालग्रह चाइल्ड लाइन के दायित्वों के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की गई ।
अंत में जिला बाल संरक्षण अधिकारी द्वारा कार्यक्रम में उपस्थित समस्त अधिकारियों कर्मचारियों का आभार व्यक्त करते हुए कार्यक्रम का समापन किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here