पूरे माह हिन्दीमय रहा साहित्य जगत् : हिन्दी महोत्सव 2021 का सफल समापन

231

पूरे माह हिन्दीमय रहा साहित्य जगत्

हिन्दी महोत्सव 2021 का सफल समापन, मातृभाषा ने मनाया हिन्दी माह

इन्दौर।
हिन्दी भाषा के प्रचार के लिए राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हिन्दी प्रचार का दायित्व निर्वहन कर रहा मातृभाषा उन्नयन संस्थान के द्वारा सितम्बर महीने के प्रत्येक दिन देश-विदेश के रचनाकारों को जोड़कर हिन्दी महोत्सव 2021 मनाया गया, जिसमें देश के विभिन्न स्थानों पर आयोजन हुए जिसमें इन्दौर, जबलपुर, दिल्ली, बिलासपुर, अम्बाह, विदिशा, कोलकाता, जोधपुर, भोपाल इत्यादि शहरों में हिन्दी पूजन, कवि सम्मेलन, उत्सव, सम्मान समारोह आयोजित किए गए। इसके साथ डिजिटल रूप समूह पर विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया, जिसमें एक हज़ार से ज़्यादा लोगों को प्रमाण-पत्र वितरित किए गए।

ज्ञात हो कि कोरोना की दूसरी लहर के चलते पूरे भारतवर्ष में देशबन्दी जैसा ही लागू है। इस देशबन्दी का सदुपयोग करते हुए मातृभाषा उन्नयन संस्थान ने मानव सेवा के साथ-साथ निरंतर साहित्य सेवा भी जारी रखी। व्हाट्सएप्प, फ़ेसबुक आदि डिजिटल माध्यमों से रचनाकारों को जोड़कर कविता लेखन, व्यंग्य लेखन, आलेख लेखन, समाचार, सुझाव, अनुभव, गीत, निबंध, हायकू, ताँका इत्यादि लेखन प्रतियोगिताएँ, परिचर्चा संचालित की, जिससे रचनाकारों को अवसाद से लड़ने का हौंसला मिला, सबलता मिली।
इसी के साथ, संस्थान के प्रकाशकीय प्रकल्प संस्मय प्रकाशन द्वारा पाँच से अधिक पुस्तकें तैयार कर उपलब्ध करवाई गईं।
प्रतियोगिताओं एवं आयोजनों का संयोजन दिल्ली की साहित्यकार एवं राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य भावना शर्मा एवं राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष शिखा जैन ने किया। इन्हीं के साथ संस्थान के पदाधिकारियों में राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. नीना जोशी, राष्ट्रीय सचिव गणतंत्र ओजस्वी, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य नितेश गुप्ता सहित मध्यप्रदेश अध्यक्ष अमित जैन मौलिक, छत्तीसगढ़ अध्यक्ष रश्मिलता मिश्रा, राजस्थान अध्यक्ष नरेंद्रपाल जैन, कवि गौरव साक्षी, जलज व्यास आदि ने अपनी महत्ती भूमिका से रचनाकारों को प्रोत्साहित किया।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here