वायुमंडल शुद्धिकरण अभियान को जन आंदोलन का स्वरूप दे रहे शिक्षक बंधु

वायुमंडल शुद्धिकरण अभियान को जन आंदोलन का स्वरूप दे रहे शिक्षक बंधु

सागर।
  वर्तमान में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए प्रदेश के शिक्षकों का रचनात्मक मैत्री समूह (लोक संत आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज की प्रेरणा एवं अखिल विश्व गायत्री परिवार के अभियान गृहे गृहे यज्ञ) के द्वारा राज्य समन्वयक शिक्षाविद डॉक्टर दामोदर जैन के कुशल निर्देशन में समूचे भारतवर्ष में कोरोना से बचने हेतु 1 मई से 10 जून 2021 तक 11 सूत्री पहल वायुमंडल का शुद्धिकरण लोकभियान प्रारंभ किया गया है सागर के जिला समन्वयक एमडी त्रिपाठी प्राचार्य रजुआ ने बताया कि आज की भयानक परिस्थिति में इस महामारी को दूर करने में अपनी प्राचीन भारतीय संस्कृति को अपनाकर पूर्वजों के देसी नुस्खे भी अपनाना होंगे क्योंकि पर्यावरण वायु प्रदूषण ज्यादा हो गया है इसलिए बीमारियां असमय हमारे भारत वासियों को बहुत कष्ट पहुंचा रहे हैं इसके लिए सरकार के अलावा सामाजिक पहल करते हुए मध्य प्रदेश राज्य के शिक्षकों ने वायुमंडल शुद्धिकरण का बीड़ा उठाया है मध्य प्रदेश तुलसी साहित्य अकादमी के अध्यक्ष एमडी त्रिपाठी ने कहा यह संकट भारतीय सनातन संस्कृति यज्ञ हवन परंपरा को भूलने का दुष्परिणाम ही प्रतीत होता है इस अभियान में शिक्षकों के अलावा सभी सामाजिक धार्मिक रचनात्मक  संगठनों को जोड़कर, घर-घर यज्ञ योग प्राणायाम ध्यान के साथ सभी के स्वस्थ रहने की कामना, घर में उपलब्ध संसाधनों से बागवानी के साथ नित्य प्रति धूप से विटामिन डी का सेवन, घर शुद्धि हेतु प्राकृतिक जड़ी बूटी युक्त हवन सामग्री कपूर लोग गंधक लोहान की नई विधि का प्रयोग, घर परिवार के साथ बैठकर अवतारों महापुरुषों की जीवन गाथा सत साहित्य का स्वाध्याय अपने धार्मिक ग्रंथों का वाचन, परिचितों मित्रों संबंधियों से मोबाइल पर जीवंत संपर्क कर सकारात्मक समर्थन, नीम की सूखी पत्तियों को जलाकर शुद्धिकरण, रात्रि में मच्छर रोधी विषैली अगर वातीयो पर प्रतिबंध उसके विकल्प का प्रयोग, नकारात्मक खबरों से दूर रहकर सकारात्मक वातावरण निर्माण करना, घर में घी या कपूर का दीपक जला कर घर में घुमाना , शासन के आदेश के तहत 2 गज दूरी मास्क है जरूरी , बगैर काम के घर से बाहर न निकलना, बारी आने पर वैक्सीनेशन कराना जैसे परोपकारी एवं स्वता के स्वास्थ्य रक्षार्थ यह वायुमंडल शुद्धिकरण अभियान सागर संभाग में भी गति पकड़े हुए हैं इस अभियान में राज्य कार्यकारिणी द्वारा नियुक्त जिला समन्वयक एमडी त्रिपाठी के द्वारा जिला कार्यकारिणी का गठन कर ब्लॉक समन्वयक बनाए गए हैं जो जन शिक्षा केंद्र संगठन का गांव शहर के हर मोहल्ले तक इस अभियान से जुड़कर समाज में महामारी के भय के विरुद्ध सकारात्मक माहौल बना रहे हैं सभी शिक्षकों से अपेक्षा की है कि वे अभियान मैं सक्रियता पूर्वक जोड़कर आगे की रणनीति तैयार कर जन सामान्य को इस संकट से बचाने में अभिनव पहल करें इस अभियान में सहायक जिला समन्वयक आदर्श शिक्षक श्रीमती कृष्णा साहू ,माधवराव शिंदे, बीआरसी सागर चौधरी सहायक संचालक शिक्षा एचपी कुर्मी अनुराग राय शिक्षक गण बीएस ठाकुर बलवंत यादव मनोज नेमा अशोक राजोरिया देवरी मुकेश मंजू लता राय राजकुमार यादव कुमारी मनीषा जैन हेमलता पचोरिया अर्चना जैन जेपी साहू मंडी बामोरा शादी शिक्षक के साथ ही मध्य प्रदेश तुलसी साहित्य अकादमी के पदाधिकारी एवं सदस्य साहित्यकार दामोदर एवं उमाकांत मिश्रा हिंदी साहित्य संस्कृति संस्कृति म

दामोदर अग्निहोत्री एनबीटी मार्शल आर्ट कलाकार दाऊ भगवानदास रैकवार अनंत सिंह यादव कभी मुकेश निराला एम एल तिवारी अलबेला भी अपने अध्यक्ष एमडी त्रिपाठी के साथ पुराण पुराण से वायुमंडल उद्धरण के इस अभियान में अहर्निश सेवा कार्य में जुटे हुए आशा है सभी के सहयोग से विशेषकर प्रिंट मीडिया एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के सम्मानीय साथियों के सहयोग से यह अभियान सफल होगा एवं हम वायुमंडल को शुद्ध कर सभी को स्वस्थ एवं प्रसन्न रखने में कामयाब होंगेह ए यज्ञ) के द्वारा राज्य समन्वयक शिक्षा भेजो डॉक्टर दामोदर जैन के कुशल निर्देशन में समूचे भारतवर्ष में कोरोना से बचने हेतु 1 मई से 10 जून 2021 तक 11 सूत्री पहल वायुमंडल का शुद्धिकरण अभियान प्रारंभ किया गया है सागर के जिला समन्वयक एमडी त्रिपाठी प्राचार्य रघु ने बताया कि आज की भयानक परिस्थिति में इस महामारी को दूर करने में अपनी प्राचीन भारतीय संस्कृति को अपनाकर पूर्वजों के देसी नुस्खे भी अपनाना होंगे क्योंकि पर्यावरण वायु प्रदूषण ज्यादा हो गया है इसलिए बीमारियां असम हमारे भारत वासियों को बहुत कष्ट पहुंचा रहे हैं ऐसे टू सरकार के अलावा सामाजिक पहल करते हुए मध्य प्रदेश राज्य के शिक्षकों ने वायुमंडल शुद्धिकरण का बीड़ा उठाया है मध्य प्रदेश साहित्य अकादमी के सागर जिला अध्यक्ष एमडी त्रिपाठी ने कहा यह संकट भारतीय सनातन संस्कृति यज्ञ हवन परंपरा को भूलने का दुष्परिणाम ही प्रतीत होता है इस अभियान में शिक्षकों के अलावा सभी सामाजिक धार्मिक रचनात्मक संगठनों स्वयंसेवी संगठनों को जोड़कर घर-घर यज्ञ योग प्राणायाम ध्यान के साथ सभी के स्वस्थ रहने की कामना घर में उपलब्ध संसाधनों से बागवानी के साथ नित्य प्रति धूप से विटामिन डी का सेवन घर शुद्धि हेतु प्राकृतिक जड़ी बूटी युक्त हवन सामग्री कपूर लोग गंधक लोहान की नई विधि का प्रयोग घर परिवार के साथ बैठकर अवतारों महापुरुषों की जीवन गाथा सत साहित्य का स्वाध्या

 महापुरुषों की जीवन गाथा सत साहित्य का स्वाध्याय अपने धार्मिक ग्रंथों का भाषण परिचितों मित्रों संबंधियों से चल भाग मोबाइल पर जीवन तो संपर्क कर सकारात्मक समर्थन नीम की सूखी पत्तियों को जलाकर शुद्धिकरण रात्रि में मच्छर रोधी विषैली अगर बस्तियों पर प्रतिबंध उसके विकल्प का प्रयोग नकारात्मक खबरों से दूर रहकर सकारात्मक वातावरण निर्माण घर में रहकर सौ बार दिखाओ ना स्थापित करना शाम को घर में दीया कपूर का दीपक जला कर घर में घुमाना शासन के आदेश के तहत 2 गज दूरी मास के जरूरी बगैर काम के घर से बाहर निकलना बारी आने पर वैक्सीनेशन कराना जैसे परोपकारी एवं स्वता के स्वास्थ्य रक्षक यह वायुमंडल शुद्धिकरण अभियान सागर संभाग में भी गति पकड़े हुए हैं इस अभियान में राज्य कार्यकारिणी द्वारा नियुक्त जिला समन्वयक एमडी त्रिपाठी के द्वारा जिला कार्यकारिणी का गठन कर ब्लॉक समन्वयक बनाए गए हैं जो जन शिक्षा केंद्र संगठन का गांव शहर के हर मोहल्ले तक इस अभियान से जुड़कर समाज में महामारी के भय के विरुद्ध सकारात्मक माहौल बना रहे हैं सभी शिक्षकों से अपेक्षा की है कि वे अभियान मैं सक्रियता पूर्वक जोड़कर आगे की रणनीति तैयार कर जन सामान्य को इस संकट से बचाने में अभिनव पहल करें इस अभियान में सहायक जिला समन्वयक आदर्श शिक्षक श्रीमती कृष्णा साहू माधवराव शिंदे बीआरसी सागर लोकमन चौधरी, सहायक संचालक शिक्षा एचपी कुर्मी, अनुराग राय , शिक्षक गण डी एस ठाकुर, बलवंत यादव ,मनोज नेमा ,अशोक राजोरिया देवरी मुकेश मंजू लता राय राजकुमार यादव कुमारी मनीषा जैन हेमलता पचोरिया अर्चना जैन जेपी साहू मंडी बामोरा साथ ही शिक्षक के साथ ही मध्य प्रदेश तुलसी साहित्य अकादमी के पदाधिकारी एवं सदस्य साहित्यकार दामोदर अग्निहोत्री  मार्शल आर्ट कलाकार दाऊ भगवानदास रैकवार अनंत सिंह यादव कभी मुकेश निराला एम एल तिवारी अलबेला भी अपने अध्यक्ष एमडी त्रिपाठी के साथ प्राणपैन    वायुमंडल सुद्धिकरण के इस अभियान में अहर्निश सेवा कार्य में जुटे हुए आशा है सभी के सहयोग से विशेषकर प्रिंट मीडिया एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के सम्मानीय साथियों के सहयोग से यह अभियान सफल होगा एवं हम वायुमंडल को शुद्ध कर सभी को स्वस्थ एवं प्रसन्न रखने में कामयाब होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here