अ.भा.हिंदी सेवा समिति की सागर शाखा का गठन : ज.ला.प्रभाकर अध्यक्ष मनोनीत

अ.भा.हिंदी सेवा समिति की सागर शाखा का गठन : ज.ला.प्रभाकर अध्यक्ष मनोनीत

सागर। 
 सागर की उल्लेखनीय साहित्यिक पृष्ठभूमि और इन दिनों जारी सक्रियता से प्रभावित होकर अ.भा.स्तर की संस्थाओं द्वारा सागर में अपनी शाखाएं गठित की जा रही ‌हैं।विगत दिनों‌ साहित्य अकादमी मध्यप्रदेश संस्कृति परिषद भोपाल सागर पाठक मंच इकाई के पुनर्गठन उपरांत स्थापित राष्ट्रीय महिला काव्य मंच दिल्ली, ग्वालियर व बुंदेलखंड छत्रसाल साहित्य एवं संगीत संस्थान भोपाल के क्रम में राष्ट्रभाषा हिंदी के उन्नयन व संवर्धन के लिए कृत संकल्पित गतिशील साहित्यिक एवं सामाजिक संस्था अखिल भारतीय हिंदी सेवा समिति जौरा मुरैना की सागर इकाई का गठन राष्ट्रीय अध्यक्ष सुमत सहयोगी द्वारा गत दिवस वृंदावन गार्डन मकरोनिया में आयोजित बैठक में किया गया। संस्था की राष्ट्रीय प्रबंध कारिणी द्वारा हिंदी त्रैमासिक पत्रिका ” भाषा श्रंगार ” के सह संपादक, कवि, साहित्यकार ज.ला. राठौर प्रभाकर को सागर इकाई अध्यक्ष मनोनीत किये जाने विषयक मनोनयन पत्र उन्हें प्रदत्त किया गया। साथ ही कवि वीरेंद्र प्रधान को संस्था का सचिव नियुक्त किया गया है।
इस अवसर पर लघु काव्य गोष्ठी भी संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुमत सहयोगी की अध्यक्षता तथा उमा कान्त मिश्र के संचालन में आयोजित की गई जिसमें वरिष्ठ बुंदेली लोक गायक हरगोविंद विश्व, कवि कथाकार आर.के. तिवारी,कवि सी.एल.कंवल,ज.ला.राठौर और सुमत सहयोगी ने काव्य पाठ कर उपस्थित श्रोताओं को आह्लादित किया।
नगर में अखिल भारतीय स्तर की एक और संस्था प्रारंभ होने तथा राठौर और प्रधान के मनोनयन पर हर्ष व्यक्त करते हुए साहित्य व हिंदी प्रेमियों ने उन्हें शुभकामनाएं दी हैं ।

डॉ चंचला दवे सागर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here