हॉकी फीडर सेंटर के प्रशिक्षु खिलाडिय़ों को मिली किट

50

हॉकी फीडर सेंटर के प्रशिक्षु खिलाडिय़ों को मिली किट
– हर वर्ष एक विवेक सागर बनाने की उम्मीद
– बच्चों से कहा, मिल रही सुविधा का लाभ उठाएं
– मेहनत करें, नगर और प्रदेश का नाम रोशन करें

इटारसी।
खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा गांधी स्टेडियम में संचालित हॉकी फीडर सेंटर के बच्चों को आज विभाग से मिली हॉकी किट प्रदान की गई। इस अवसर पर हॉकी होशंगाबाद के अध्यक्ष प्रशांत जैन, वरिष्ठ भाजपा नेता जगदीश मालवीय, वरिष्ठ खिलाड़ी एससी लाल, हॉकी मप्र के सहसचिव दीपक जेम्स, कार्यकारी अध्यक्ष शिरीष कोठारी, उपाध्यक्ष हरप्रीत सिंघ छाबड़ा ने बच्चों को किट प्रदान करके उनके हॉकी में उज्ज्वल भविष्य की कामना की। किट में बच्चों को हॉकी, टी-शर्ट, हाफ पेंट, बॉल, सिंकपैड, मौजे, जूते और सपोर्टर दिये गये। इसके अलावा गोलकीपर की फुल किट दी गयी।
इस अवसर पर कार्यकारी सचिव रविन्द्र जोशी, सचिव कन्हैया गुरयानी, कोषाध्यक्ष सर्वजीत सिंह सैनी, कुलभूषण मिश्रा, सुनील बतरा, अरुण राबर्ट, मनमोहन सिंह वाही, साजिद मलिक, निशांत अगस्टीन, रीतेश श्रीवास, मनीष कोलते, विधि पचौरी, शफीक कुरैशी, आशीष शर्मा, विवेक पटेल, अजय अलबर्ट, अजीत सिंह राजपूत, रवि हरदुआ, रमाशंकर कौल दीपू सहित अनेक जूनियर और युवा खिलाड़ी मौजूद थे।
पहले नहीं थी सुविधाएं
कार्यक्रम में नन्हें खिलाडिय़ों को संबोधित करते हुए भाजपा नेता जगदीश मालवीय ने कहा कि हम जब हॉकी खेलते थे, जब इतनी सुविधाएं नहीं होती थीं। अपने खर्च पर ही सुविधाएं जुटानी पड़ती थीं, जो मुश्किल होती थी। हमने स्कूल समय में अभावों में हॉकी खेली है। आज सरकार इस खेल में सुविधाएं दे रही हैं, इसका फायदा उठाएं और अपने खेल में इतना निखार लाएं कि आपको राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खेलने को मिले जिससे नगर, प्रदेश और देश का नाम हो। अध्यक्ष प्रशांत जैन ने कहा कि सुविधाएं मिल रहीं हैं तो हर वर्ष एक विवेक सागर यहां से निकले, इतनी मेहनत की जाए। उन्होंने बच्चों से कहा कि मन लगाकर खेल में रुचि लें और 14 से 21 फरवरी तक जो स्टेट लेबल की सीनियर इंटर डिस्ट्रिक्ट प्रतियोगिता होने वाली है, उसे ध्यान से देखें कि सीनियर खिलाड़ी किस तकनीक से हॉकी खेलते हैं, उनका खेल देखकर सीखें।
फीडर सेंटर सौभाग्य की बात
वरिष्ठ खिलाड़ी और मार्गदर्शक एससी लाल ने कहा कि इटारसी में मप्र शासन ने हॉकी फीडर सेंटर दिया है, यह सौभाग्य की बात है। पहले सुविधाएं नहीं थीं। यहां बड़ी संख्या में बच्चे हॉकी खेल को सीख रहे हैं। फीडर सेंटर में भले ही 20 खिलाडिय़ों का कोटा है, लेकिन इस मैदान पर करीब सौ बच्चे प्रतिदिन आ रहे हैं और हमारे सीनियर प्लेयर्स उनको हॉकी के गुर सिखा रहे हैं। हॉकी मप्र के सहसचिव दीपक जेम्स ने फीडर सेंटर में प्रशिक्षण ले रहे बच्चों के विषय में जानकारी दी और समारोह का संचालन किया। किट वितरण कार्यक्रम का संचालन विधि पचौरी ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here