नर्मदा नदी के तटीय इलाकों में प्रवेश ना करने की अपील

तवा व बारना बांध के गेट खोले गए
रात 8:00 बजे बरगी बांध के 6 गेट और खोले गए
जिला प्रशासन ने की आमजन से नर्मदा नदी के तटीय इलाकों में प्रवेश ना करने की अपील

होशंगाबाद/28,अगस्त, 2020/ तवा बांध से आज सुबह 8 : 30 बजे 9 गेटो से लगभग 173142 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है । जिला प्रशासन रायसेन से प्राप्त जानकारी अनुसार बारना बांध रायसेन से सुबह 7 बजे 8 खोले गए है, जिससे लगभग 143000 क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा । इसी तरह बरगी बांध जबलपुर के पहले 3 और गुरुवार रात 8 बजे 6 गेट इस तरह कुल 9 गेट खोले गए है। बरगी बांध प्रबंधन द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक नौ जलद्वारों से कुल 74 हजार 302 क्यूसेक पानी छोड़ा जायेगा।उक्त तीनों बांधो से पानी छोड़ने जाने से नर्मदा नदी के जलस्तर में लगभग 15 -18 फीट बढ़ने की संभावना है। जिला प्रशासन ने नर्मदा नदी से लगे ग्रामों के रहवासियों से अपील की है कि वे नदी के तटीय क्षेत्रों में प्रवेश ना करें व जलभराव वाले क्षेत्रों से दूर रहें।
कलेक्टर श्री धनंजय सिंह ने सभी एसडीएम ,जनपद सीईओ, एवं सीएमओ को निर्देशित किया है कि वे नर्मदा नदी के तटीय इलाकों की सतत मॉनिटरिंग करें एवं सतर्क रहे। उन्होंने जिला स्तरीय एवं तहसील स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष को सक्रियता से काम करने के निर्देश दिए है ।
अधीक्षण यंत्री जल संसाधन द्वारा बताया गया कि तवा बांध से पानी छोड़े जाने से नर्मदा नदी का जलस्तर लगभग 12 फीट बढ़ने की संभावना है। जिले में लगातार वर्षा जारी रहने की स्थिति में तवा बांध के अतिरिक्त गेट खुले जा सकते हैं। होशंगाबाद में बारना बांध से छोड़ा गया पानी लगभग 18 से 20 घंटे एवं रात 8:00 बजे बरगी बांध जबलपुर से छोड़े जाने वाला पानी लगभग 36 घंटे में पहुंचने की संभावना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here