युवा पीढ़ी करुणेश जी के सिद्धान्तों से प्रेरणा ले:राज्यपाल बेबी रानी मौर्य

    युवा पीढ़ी करुणेश जी के सिद्धान्तों से प्रेरणा ले:राज्यपाल बेबी रानी मौर्य

आगरा। उत्तराखंड की राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य ने कहा है कि स्वाधीनता संग्राम सेनानियों की स्मृति को नमन कर के ही आज की युवा पीढ़ी को नई सोच, नया विचार मिल सकता है।

श्रीमती मौर्य रविवार को आगरा में स्वाधीनता संग्राम सेनानी स्व रोशनलाल गुप्त करुणेश के फेसबुक लाइव पेज पर “करुणेश परिवार” द्वारा प्रारंभ किये जा रहे “विस्मृत सेनानियों की याद” कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए पटल पर उपस्थित जनमानस को ऑनलाइन वीडियो के माध्यम से संबोधित कर रहीं थी ।

उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों ने राष्ट्र की आजादी के लिए जो संघर्ष किया उससे युवा पीढ़ी को बहुत कुछ सीखना चाहिए और प्रेरणा लेनी चाहिए । इससे उनको राष्ट्र के प्रति सम्मान का बोध होगा और साहस का संचार होगा जिसकी आज उनको बहुत आवश्यकता है।

श्रीमती मौर्य ने स्वतंत्रता संग्राम व उसके उपरांत राष्ट्र व समाज को करुणेश जी के योगदान व उनके जीवन संघर्ष का विस्तार से वर्णन किया। मेयर बनने के उपरांत 1996 में करुणेश जी से अपनी भेंट और उसके बाद उनके साथ कई मुलाकातों का जिक्र करते हुए राज्यपाल महोदया ने कहा कि उनसे मुझे बहुत प्रेरणा मिली और उनसे प्रेरित होकर मैंने समाज के लिए अनेक कार्य किए, महिलाओं के लिए, गरीबों के लिए अनेक कार्य किए । वह मेरे सच्चे प्रेरणास्रोत थे ।

प्रारंभ में श्रीमती मौर्य ने करुणेश जी के चित्र पर माल्यार्पण करके उनको श्रद्धा सुमन अर्पित किए ।

श्री रोशनलाल गुप्त करुणेश परिवार ने विस्मृत सेनानियों व शहीदों को याद करने के लिए अभियान शुरू किया है। इस के अंतर्गत करुणेश जी के फेसबुक पेज पर प्रति रविवार को सायं 5:00 बजे देश के वरिष्ठ स्वाधीनता सेनानियों ,कवियों, साहित्यकारों को पटल पर आमंत्रित कर के
उनके विचारों का आदान प्रदान
किया जायेगा,ताकि युवा पीढ़ी और अन्य सभी को भी उनके बारे में जानकारी प्राप्त हो सके।

सर्वज्ञ शेखर
करुणेश परिवार

gupta.ss05@gmail.com

आवश्यक सूचना

कमेंट बॉक्स में अपनी प्रतिक्रिया लिखिए तथा शेयर कीजिए।

इस तरह भेजें प्रकाशन सामग्री

अब समाचार,रचनाएँ और फोटो दिए गए प्रारूप के माध्यम से ही भेजना होगा तभी उनका प्रकाशन होगा।
प्रारूप के लिए -हमारे मीनू बोर्ड पर अपलोड लिंक दिया गया है। देखें तथा उसमें ही पोस्ट करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here