राम केवल नाम ही नहीं सम्पूर्ण प्राणिमात्र के अस्तित्व का प्रमाण है – पूर्व गृहमंत्री श्री चावला

65

राम केवल नाम ही नहीं सम्पूर्ण प्राणिमात्र के अस्तित्व का प्रमाण है – पूर्व गृहमंत्री श्री चावला

देश ही नहीं विश्व में राम चरित गूंज रहा है – – सांसद श्री गुप्ता

दशपुर वैभव संगम ने किया कार सेवकों का सम्मान

मंदसौर से डॉ घनश्याम बटवाल की रिपोर्ट

मंदसौर ।
अयोध्या मामले का पटाक्षेप संघर्ष , त्याग और बलिदानों के बाद हुआ है । पीढ़ियों के बाद शुभ अवसर आया है जब रामलला की मंदिर में प्राणप्रतिष्ठा होने जारही है । राम केवल नाम ही नहीं है अपितु यह प्राणिमात्र के अस्तित्व का प्रमाण है ।
यह उद्गार व्यक्त किये प्रदेश के पूर्व गृहमंत्री श्री कैलाश चावला ने ।गुरुवार दोपहर आप मंदसौर में सांस्कृतिक संस्था ” दशपुर वैभव संगम ” द्वारा आयोजित श्रीराम कार सेवा अभिनंदन समारोह के मुख्य अतिथि थे ।
गोल चौराहा स्थित पांडेय स्मृति सभागृह में सम्पन्न समारोह में मंदसौर , शामगढ़ , मल्हारगढ़ , पिपलिया , दलौदा , सीतामऊ सहित अन्य स्थानों के 30 से अधिक कार सेवकों को सम्मानित कर अभिनंदन किया गया ।
मुख्य अतिथि श्री चावला ने कहा
राम का चरित्र मानव मात्र के लिए जीवन का श्रेष्ठ उदाहरण है । आज़ाद भारत के लिए महात्मा गांधी ने राम राज्य की कल्पना की थी । कारसेवकों के संघर्ष और बलिदानों को भुलाया नहीं जा सकता । आपने दशपुर वैभव संगम संस्था के आयोजन की सराहना की । आपने राम जन्मभूमि आंदोलन के नेतृत्व की अग्रिम पंक्ति के अशोक सिंघल आचार्य श्रीधर्मेंद्र , साध्वी ऋतुम्भरा , आदि के योगदान को याद किया ।
कार सेवक रहे मंदसौर नीमच जावरा के लोकसभा सांसद श्री सुधीर गुप्ता ने अपने संस्मरण सुनाए और कहा कि
मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम देश ही विश्व में गुंज रहा है । राम राज्य में वसुधैव कुटुम्बकम की अवधारणा आज भी अत्यंत प्रासंगिक है । भारत राम राज्य की और बढ़ चला है । विकसित भारत , सक्षम भारत , युवा भारत ,संकल्पित भारत को एकबार फिर अखंड भारत के रूप में राम स्थापित करने जा रहे हैं ।
सांसद श्री गुप्ता ने कार सेवा के साथियों को याद किया और सम्मान समारोह को अच्छी पहल निरूपित किया ।
अभिनंदन समारोह की अध्यक्षता दशपुर प्राच्य शोध संस्थान निदेशक डॉ कैलाशचंद्र पांडेय ने की ।
डॉ पांडेय ने कार सेवा संस्मरण सुनाए और मंदसौर जिले के 600 से अधिक कार सेवकों से अपील की और कहा कि अपने संस्मरणों को लिपिबद्ध करते हुए उपलब्ध चित्रों के साथ उन्हें भेजें ताकि जिले के कार सेवकों का संग्रह और स्मारिका प्रकाशित की जासके ।
शामगढ़ के जगदीश सोनी , राजेंद्र सिसोदिया , पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष, मल्हारगढ़ के मदनलाल राठौड़ , वरिष्ठ अभिभाषक गोपाल कृष्ण पाटिल , स्वर्णकार समाज राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कारूलाल सोनी , वंदे मातरम सेवा समिति अध्यक्ष अज़ीज खान , सक्षम सेवा संस्था प्रांतीय सहसचिव डॉ रविन्द्र पांडेय , पार्षद सुनील बंसल , वरिष्ठ पत्रकार आशुतोष नवाल , एडवोकेट नितिन शिंदे सहित अन्य ने सन 1990 एवं 1092 की अयोध्या कार सेवा काल खंड की प्रताड़ना , कठिनाई , जीवन मरण संघर्ष , जेलों की यातनाएं , तत्कालीन पुलिस एवं अन्य एजेंसियों से हुई समस्याओं को खुलकर व्यक्त किया । साथ ही यह भी बताया कि मन और तन में विश्वास बना रहा और अन्ततः राम मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त हुआ ।
इसके पूर्व अतिथियों ने राम दरबार और मार्गदर्शक मंडल स्तंभ आचार्य श्रीधर्मेंद्रजी महाराज के चित्र पर माल्यार्पण किया ।
स्वागत और समारोह रूपरेखा दशपुर वैभव संगम संयोजक डॉ घनश्याम बटवाल ने प्रस्तुत की ।
पूर्व गृहमंत्री श्री चावला , शोध संस्थान निदेशक डॉ पांडेय , सांसद श्री सुधीर गुप्ता ने परमानंद परमार , कमलेश आर्य ,राजेंद्रप्रसाद माथुर , रामेश्वर मकवाना , भरत शिंदे , नरेंद्र पोरवाल ,अनिल गुप्ता ,नरेंद्र प्रहलाद बंधवार ,अनिल हरिप्रसाद शर्मा ,अरुण कासट ,अशोक परमार सहित अन्य कार सेवकों का अभिनंदन कर सम्मानित किया शॉल उपरना के साथ रामचरित मानस एवं गीताजी ग्रंथ भेंट किये ।
इस अवसर पर सामाजिक और अन्य क्षेत्रों में सक्रिय लालबहादुर श्रीवास्तव , अशोक त्रिपाठी , नंदकिशोर राठौड़ को श्री चावला एवं सांसद श्री गुप्ता ने सम्मानित किया ।
आकाशवाणी कलाकार श्री ललित बटवाल ने सस्वर राम भजन प्रस्तुत किया ।
शिक्षाविद सुरेंद्र दीक्षित ,भारत विकास परिषद प्रांतीय पदाधिकारी घनश्याम पोरवाल , वरिष्ठ पत्रकार नवनीत शर्मा , संगीत महाविद्यालय जनभागीदारी समिति अध्यक्ष नरेंद्र त्रिवेदी , भाजपा मंडल अध्यक्ष अरविंद सारस्वत , समाजसेवी देवेंद्र मरच्या, इंजीनियर रामगोपाल गुप्ता सहित गणमान्य जन उपस्थित थे । अंत में आभार दशपुर वैभव संगम सचेतक अशोक त्रिपाठी ने माना ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here