पूर्व कमिश्नर श्री उमराव को दी गई भावभीनी विदाई : नवागत कमिश्नर श्री रविन्द्र मिश्रा का किया गया स्वागत

पूर्व कमिश्नर श्री उमराव को दी गई भावभीनी विदाई : नवागत कमिश्नर श्री रविन्द्र मिश्रा का किया गया स्वागत

होशंगाबाद/11,फरवरी,2019/ नर्मदापुरम् संभाग के निवृतमान कमिश्नर श्री उमाकांत उमराव को आज कमिश्नर परिसर में सभी संभागीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने भावभीनी विदाई दी। उल्लेखनीय है कि श्री उमराव की नवीन पदस्थापना मुख्यमंत्री ग्रामीण सड़क विभाग में मुख्य कार्यपालन अधिकारी के रूप में हुई है। इस अवसर पर सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने समारोह आयोजित कर नवागत कमिश्नर श्री रविन्द्र मिश्रा का स्वागत किया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में पूर्व कमिश्नर श्री उमराव का फूल मालाओं से स्वागत कर स्मृति चिन्ह भेंट किया गया। आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पूर्व कमिश्नर श्री उमराव ने कहा कि संभागीय कार्यालय ने जो कार्य एवं प्रयास किए इससे देखने वालो का नजरिया एवं भूमिका बदल गई। उन्होने कहा कि जितने भी संभागीय अधिकारी एवं कर्मचारी है उन सब का सहयोग समय समय पर मुझे प्राप्त हुआ। उन्होने कहा कि मैं हमेशा अपने सब ऑर्डिनेट्स से सीखता रहता हूं यहां पर भी मुझे काफी कुछ सीखने को मिला। रिपेरियन जोन में जब कार्य की शुरूआत की गई तब शासन को पहला पत्र रविन्द्र ने लिखा था इसलिए माँ नर्मदा ने उन्हें नर्मदापुरम् का कमिश्नर बनाकर भेजा है। श्री उमराव ने पुलिस महानिरीक्षक श्री केसी जैन, डीआईजी श्री रामाश्रय चौबे, वन संरक्षक श्री केसी भारद्वाज, कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना एवं संचालक एसटीआर श्री एसके सिंह को धन्यवाद ज्ञापित किया, जिनके सहयोग से हर कार्य सरलता से निराकृत होते रहें।
पुलिस महानिरीक्षक श्री केसी जैन ने विदाई समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि विगत 7-8 माह से वे श्री उमराव के साथ कार्य करते रहें। श्री उमराव किसी भी कार्य को करने में आगे आकर अपनी भूमिका का निर्वहन करते है। उन्होने कहा कि श्री उमराव ने रिपेरियन जोन एवं हिरण्यगर्भा मातृ मुस्कान अभियान में अग्रणी भूमिका निभाई। इन दोनो अभियानों को पूरे देश में सराहा गया है। वन संरक्षक श्री केसी भारद्वाज ने कहा कि श्री उमराव का व्यक्तित्व प्रेरणा दायक रहा है और उनका कार्य हमेशा से ही मार्ग दर्शन करने वाला रहा है। डीआईजी श्री रामाश्रय चौबे ने कहा कि श्री उमराव के साथ कार्य करने का एक अगल ही अनुभव था। वे समय समय पर महत्वपूर्ण सुझाव देते थे। कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने कहा कि श्री उमराव हमेशा बडे भाई की तरह मार्गदर्शन देने का कार्य करते रहें। उन्होने जो कार्य किए है वे सामाजिक बदलाव लाने का माध्यम बने। उन्होने नर्मदापुरम् संभाग में जो कार्य किए है वे कार्य हमेशा जनता के दिलो दिमाग में स्मृति के रूप में बने रहेंगे। संचालक एसटीआर श्री एसके सिंह ने कहा कि श्री उमराव ने वन विभाग के कार्यो में भी रूचि लेकर समस्याओं का समाधान किया। उन्होने हर स्तर पर सहयोग प्रदान किया। कार्यक्रम को संयुक्त संचालक महिला एवं बाल विकास श्री शिव कुमार शर्मा एवं डिप्टी कमिश्नर आदिमजाति कल्याण विभाग श्री जेपी यादव ने भी संबोधित किया।
नवागत कमिश्नर श्री रविन्द्र मिश्रा ने कहा कि वे एक वर्ष पूर्व भी संभाग में पदस्थ रहें थे। उस दौरान उन्हे श्री उमराव के साथ कार्य करने का सौभाग्य मिला। श्री मिश्रा ने कहा कि श्री उमराव जहां भी रहे वहां उन्होने एक अलग ही कीर्तिमान स्थापित किया। उनकी प्रेरणा से अनेक कार्य शुरू हुए। उन्होने विभाग एवं विषय से हटकर कार्य किया और ख्याति अर्जित की। उन्होने कहा कि वे श्री उमराव के मार्गदर्शन में कार्य करते रहेंगे।
इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री केडी त्रिपाठी, कैंट सीईओ श्री सत्यम मोहन, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री पीसी शर्मा, संयुक्त संचालक शिक्षा श्री संतोष त्रिपाठी, एसडीएम श्री वृंदावन सिंह, तहसीलदार श्री शैलेन्द्र बडोनिया सहित सभी संगाभीय अधिकारी एवं कर्मचारी गण मौजूद थे।

Please follow and like us:
0

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*