Devendra Soni March 26, 2020

*कोरोना-कोविड-19: कहीं ये साज़िश तो नहीं* ?

कुछ दिन पहले मैंने अपने कुछ मित्रों से जिज्ञासा वश में बात कही थी, जब इटली में कोविड-19 से तबाही प्रारंभ हो चुकी थी। सबने सहमति तो दी पर हल्के फुल्के अंदाज में। आज फिर मन में प्रश्न आते हैं कि-

१- आज कोरोना वायरस विश्व के कोने कोने में पहुंच कर तबाही मचा रहा है लेकिन चीन के ही बुहांग से निकला वायरस वहां के बीजिंग और शंघाई में नहीं गया। जहां चीन की राजधानी और आर्थिक राजधानी/इकोनॉमिक कैपिटल हैं।

२- चीन में एक भी नेता एवं प्रशासनिक या व्यापारी वर्ग पर इसका कोई प्रभाव नहीं हुआ।

३- विश्व भर के महत्त्वपूर्ण राजनीतिक और आर्थिक केंद्र बंद हैं, लेकिन बीजिंग और शंघाई खुले हुए हैं, स्थिति नियंत्रण में बताकर बाकी बुहांग भी खुलने वाला है।

४- संभवतः चीन के पास इसकी दवा भी है लेकिन वह बता न रहा हो ।

५- कहीं यह चीन के द्वारा विश्व को बर्बाद करने के लिए बनाकर छोड़ा गया एक बायोकैमिकल हथियार तो नहीं? जिसे अपने ही कुछ लोगों को मरवाकर नियंत्रित कर लिया हो।

*बचाव ही सुरक्षा, बचाव ही उपचार*

*घर पर रहें,स्वस्थ रहें, सुरक्षित रहें, हाथ साबुन से बार बार धोते रहें*
@नवीन जोशी ‘नवल’

1 thought on “कोरोना-कोविड-19: कहीं ये साज़िश तो नहीं ?- नवीन जोशी,दिल्ली

  1. हार्दिक आभार ‘युवा प्रवर्तक’ मेरे छोटे से लेख को प्रकाशित करने हेतु।

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*