Devendra Soni February 14, 2020



“मान तिरंगे का”

भारत मां के वीर लाडलों,नमन मेरा स्वीकार करो।
नम आंखों में प्यार भरा है,वीरों इसे स्वीकार करो।।

भारत मां की रक्षा हेतू, तुमने अपना बलिदान दिया।
सर्वस्व लुटा कर भी तुमने, तनिक नहीं अभिमान किया।।

मान तिरंगे का रखने को, तुमने जीवन दान किया।
लिपट तिरंगे में जब आए, देश ने गौरव गान किया।।

तुम बिन घर आंगन है सूना, याद तुम्हारी आती है।
लेकिन जो काफिर हैं घर में, शर्म न उनको आती है।।

तुमने अपना काम किया, और अमर देश का नाम किया।
हम भी जीवन सफल करें, ऐसा गौरव मय काम किया।।

(अशोक राय वत्स)©® स्वरचित
रैनी, मऊ, उत्तरप्रदेश8619668341

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*