Devendra Soni December 10, 2019

यातायात नियमों की जानकारी होना समाज एवं देशहित की बात

इटारसी। हमारे देश को अच्छे नागरिकों की बहुत जरुरत है, इसलिए सबसे पहले अच्छे नागरिक स्कूलों से बनकर निकालें तो हमारे देश को सर्वश्रेष्ठ देश बनने से कोई नहीं रोक सकेगा. यह बात डी पी दुबे मेमोरियल हायर सेकेंडरी स्कूल के हाई एवं हायर सेकेंडरी छात्र छात्राओं को यातायात जागरूकता कार्यशाला को संबोधित करते हुए इसका संस्था अध्यक्ष एवं सामाजिक कार्यकर्ता भारत भूषण आर गाँधी ने कही. गाँधी ने बच्चों को यातायात जागरूकता की आवश्यकता पर बल देते हुए आगे कहा कि यातायात नियमों की जानकारी होना और उनका पालन करना देश और समाजहित की बात है. आज के समय में प्रति ३ मिनट में एक व्यक्ति सड़क दुर्घटना में शिकार होकर मौत के मुंह में जा रहा है और मरने वाला व्यक्ति कोई बच्चा, जवान, बूढा महिला या पुरुष कोई भी हो सकता है. इसलिए जहाँ तक हो सके सड़क पर कोई भी वाहन बिना वैध लायसेंस के नहीं चलाना चाहिए. जिन जिन बच्चों ने दुपहिया वाहन चलाना सीख लिया है वे पहले लर्निंग लायसेंस लें और १८ वर्ष की आयु पूर्ण होने पर ही गियर वाली दुपहिया वालन चालन का लायसेंस लें.

इस अवसर पर आरोग्य भारती प्रमुख डॉ राजकुमार जैन ने भी बच्चों के साथ प्रेरणा गीत गया तथा सम्पूर्ण जीवन में सतत आगे बढ़ने के लिए हमेशा सीखने के लिए तत्पर रहने को कहा. सामजिक कार्यकर्त्ता अखिल दुबे ने भी सड़क पर वाहन चालन सम्बन्धी प्रमुख बिन्दुओं को समझाया.

स्कूल संचालक प्रशांत चौबे ने यातायात जागरूकता विषय वक्ताओं का आभार मानते हुए बच्चों से आशा व्यक्त की कि वे इस कार्यशाला से बहुत सीखे हैं और आगामी जीवन में अच्छे नागरिक बनकर देश और समाज की प्रगति में सहायक बनेंगे.

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*