हजारीबाग से शशि बाला की कविता – नमन करो

नमन करो

दो हाथ जोड़कर नमन करो
उस ईश्वर को परमेश्वर को
दो नयन मूंद कर स्मरण करो
उस परम पिता जगदीश्वर को

हम सबका तारणहार वही
इस जग का पालनहार वही
सब जीव जगत के जीवन का
एकमात्र अटल आधार वही

सरल हृदय से स्मरण करो
उस परम पिता परमेश्वर को
दो हाथ उठाकर नमन करो
उस ईश्वर को जगदीश्वर को

ये सूर्य चंद्र सब जिसके हैं
ये ग्रह नक्षत्र सब जिसके हैं
ये पवन घटा और साँझ सुबह
ये दिवस रैन सब जिसके हैं

चाहे भय से हो चाहे भक्ति से
दिल से मगर आह्वान करो
दो नयन मूंद कर ध्यान करो
उस ईश्वर को जगदीश्वर को

दो हाथ उठा कर नमन करो
उस परम पिता परमेश्वर को
दो नयन मूँद कर नमन करो
उस ईश्वर को जगदीश्वर को…

– शशि बाला,हजारीबाग

Please follow and like us:
0

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*